जाने  न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए – शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए ( Minimum amount to invest in stock in Hindi )- शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? – आप अगर जानना चाहते है की शेयर बाजार में कम से कम कितना पैसा लगा सकते है? तो मै आपको एक लाइन में बताना चाहूँगा की आप मात्र रु.५००० या उस से भी कम न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए लगा सकते है. लेकिन कैसे ये जानने के लिये इस पोस्ट को पूरा अंत तक पढ़े और इसमें दिए सुझाव पर अमल करने की कोशिश जरुर करे.

नमस्कार दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आप का kickstartonline की इस जबरदस्त जानकारीपूर्ण पोस्ट में. इस पोस्ट में हम सिलसिलेवार तरीके से जानेगे की न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए कितनी और कैसे लगाए. ताकि शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए इसके बारे में आपको अच्छे से जानकारी होसके. दोस्तों में मेरी हर पोस्ट में मेरे वाचको को यही सलाह देता हु, की आप अगर शेयर मार्केट में बिलकुल नये है. तो सबसे पहले आपने शेयर बाजार में कम से कम कितना पैसा लगा सकते है? इसके बारे में जानने से पहले. आप शेयर खरीदने के नियम, शेयर कब खरीदना चाहिए? शेयर मार्केट को कैसे समझें? इत्यादों. सवालों के जवाब को तलाशे और अपना शेयर मार्केट के knowledge बढाये.   

लेकिन चिंता करने की कोई बात नही आपको इन सभी सवालों के जवाब यही मिलजायेंगे और साथ ही इस पोस्ट के आखिर तक आपको न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए कितनी चाहिये जिसके जरिये आप शेयर बाजार में पैसा कैसे कमाए ये जान सकोगे. साथ ही मै आपको ये शेयर मार्केट की ३ जबरदस्त किताबे पढने की सलाह भी दूंगा अगर आप सच में शेयर मार्केट से पैसे कमाना चाहते है. और आप अगर शेयर मार्केट में बिलकुल नये है और शेयर मार्केट क्या है ये भी जानना चाहते है तो आप पहले ये पोस्ट जरुर पढ़े. 

intraday trading strategies in marathi शेअर बाजार पुस्तक PDF Download Free

 Subscribe Button पर क्लिक कर के यही से हमारे YouTube चॅनल को 

>> Subscribe << करे !

 हमारे इस YouTube Shorts Channel पर आपको रोज मार्केट खुलने से पहले Most Intresting Chart Patterns देखने को मीलेंगे. जिससे आपकी रोज रोज अच्छे Stock धुंडने की मेहनत बहोत कम हो जायेगी. इसलिए   Subscribe Button पर क्लिक कर के यही से हमारे YouTube Shorts Channel को Subscribe करले.

 

Table of Contents

How to invest in share market in Hindi - शेयर बाजार में कैसे निवेश करे हिंदी में 

  1. Intraday Strategies 
  2. Swing Trading Strategies
  3. Momentum Investing 
  4. Volume based Trading
  5. Reversal Strategies
  6. Pattern Trading Strategies
  7. By Finding Support & Level , इत्यादि।

इन तकणी को का इस्तमाल कर के कैसे एक बहोत मोटा पैसा शहरे मार्केट से कमाया जा सकता है. और मात्येर रु.५००० से भी आप शहरे मार्केट मे निवेश करणा शुरू कर सकते है. इस के बारे मे बहोत हि विस्तृत तरीके से और आसान भाषा मे बताया है. 

जैसे कि मैंने आपको इस पोस्ट में बताया की शेयर बाजार में निवेश करने के लिए आपका डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य है।  आप सेबी रजिस्टर्ड किसी भी ब्रोकर के पास डिमैट अकाउंट ओपन करके शेयर बाजार में निवेश करना शुरू कर सकते हैं। वैसे तो लगभग हर बड़ी प्राइवेट बैंक और सरकारी बैंक में डिमैट खाता खोला जा सकता है, लेकिन फिर भी लोग अन्य सेबी रजिस्टर्ड ब्रोकर के साथ में अकाउंट ओपन करना पसंद करते हैं। क्योंकि वहां पर उन्हें बैंक की तुलना में अधिक सुविधाएं और अत्याधुनिक ट्रेडिंग सिस्टम और सहायता मिलती है। तथा बैंक की तुलना में बाकी ब्रोकर का ब्रोकरेज रेट भी बहुत कम होता है। 

ये जो ब्रोकर्स के नाम दिए है उनके साथ आप अपना ट्रेडिंग डिमँट अकाउंट बड़ी आसानी से बिना फिजिकल डॉक्यूमेंटेशन के Online ही Open कर सकते हो। और अभी Covid – १९ के चलते ये बोकेर्स अपने नये ग्राहकों को बहोत सारे ऑफर्स भी दे रहे है। कोई १ महीने तक ब्रोकरेज नहीं ले रहा तो कूई शेयर मार्केट का बेसिक से लेकर एडवांस कौर्स मुफ्त में दे रहा है जो की बाहर हजारो रुपयों में बिकता है। आप उपर दिए नामो पर क्लिक कर के अभी के लेटेस्ट ऑफर्स देख सकते है। मेरे खुद के इन तीनो ब्रोकर्स के साथ अकाउंट है। और मेरी आपको भी ये ही साला है की आप के भी कम से कम ३ ब्रोकर्स के पास ट्रेडिंग डिमँट अकाउंट होने चाहिये, ये कंपल्सरी नहीं है, लकिन रहे तो इसके फायदे बहोत है।

Upstox मे खाता खोलने के लिए 👉 यहा क्लिक करे मोबाईल से खाता खोलने के लिए 👉 यहा क्लिक करे

Samco

आजकल तो डिस्काउंट ब्रोकर्स के पास अकाउंट ओपन करने के लिए लोग खासे उत्सुक रहते हैं। क्योंकि यह डिस्काउंट ब्रोकर निवेशकों को उनके इन्वेस्टमेंट के ऊपर 10 से लेकर 20 टाइम लेवरेज प्रदान करते हैं। यानी आपके पास अगर ₹10000 है तो आप ₹100000 तक के शेयर खरीद सकते हैं। निश्चित ही इसमें हर ब्रोकर हाउस के कुछ कंडीशन भी होती है, जो आपको उन्हें अकाउंट ओपन करने से पहले पूछ लेना चाहिए।

जैसे ही आपका डीमैट खाता खुल जाता है आपको ब्रोकर की तरफ से एक यूजर आईडी (User ID) और एक मेंबरशिप पासवर्ड और एक ट्रांजैक्शन पासवर्ड ई-मेल द्वारा दिया जाता है। बाद में आपको अपने खाते का मेंबरशिप पासवर्ड और ट्रांजैक्शन पासवर्ड को चेंज कर लेना होता है, और इसे किसी के साथ भी शेयर नहीं करना होता है। जैसे ही आप यह प्रक्रिया पूरी कर लेते हो तब आप आपके अकाउंट में बैंक द्वारा या अन्य द्वारा प्रणाली द्वारा पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं, और आपके पसंद के शेर को खरीद और बेच सकते हैं। यह बहुत ही सरल, सेफ और आसान है, और इसमें कई सारे ब्रोकर आपकी सहायता भी करते हैं। जैसे की आपको शेयर खरीदने बेचने का डेमो भी देते हैं,  टेक्निकल कॉल, निफ्टी के रोजाना के सपोर्ट और रेजिस्टेंस लेवल इत्यदि जानकारी देते है.

जिससे कि आप पूरे कॉन्फिडेंस से उनके द्वारा प्रदान की जाने वाली सॉफ्टवेयर या वेब ट्रेडिंग पोर्टल का इस्तेमाल कर सके। उम्मीद है आपको How to invest in share market in Hindi की जानकारी समझ आई होगी। 

क्या बैंक से ऋण लेकर शेयर मार्केट में निवेश किया जा सकता है?

अगर आप बैंक से ऋण लेकर शेयर मार्केट में निवेश किया जा सकता है या नही इस का जवाब ढूंड रहे है. तो १०० % इसका जवाब ना है ये बहोत ही खतरनाक और घातक हो सकता है. शेयर मार्केट में निवेश किया करने से पहले आपको शेयर मार्केट का प्रशिक्षण लेना बहोत जरूरी है. प्रशिक्षण याने सिर्फ ये नही की कब और कोंनसे लेवल पर शेयर की खरेदी बिक्री करे. 

प्रशिक्ष्ण में ये तो आप सीखोगे ही साथ ही आप की मानसिकता कैसी है, आप खुद पर कितना नियंत्रण रख सकते है, आप कितने जल्दी विचलित होते है अगर मार्केट आप के मन मुताबिक़ ना रहे ये सब बाते आपको पहले सिकनी चाहिये. फिर पेपर मोड़ पर trade करना चाहिये और जब आप खुद को १०० % परफेक्ट समझने लगे तब ही आपको अपने कमाई का ज्य्दासे ज्यादा २५ % मार्केट में लगाना चाहिये. और फिर जैसे जैसे आप के अंदर एक आत्मविश्वास बढने लगेगा आप अपनी राशि को धीरे धीरे खुद ही बढाना सिख जाएंगे. 

लकिन क्या बैंक से ऋण लेकर शेयर मार्केट में निवेश किया जा सकता है? इस का जवाब अभी भी १०० % ना ही है.  आप अगर शेयर मार्केट कम खर्चे में सीखना चाहते है तो वो जगह है किताबे आप यहाँ क्लिक करके शेयर मार्केट के Best Technical Analysis Books in Hindi भाषा में पढ़ सकते है. 

सिर्फ Kick Start Online के वाचको के लिये FREE अकाउंट ओपनिंग ऑफर, थोड़े ही समय के लिये है.

शेयर कैसे खरीदते है - How to buy shares

जैसे ही आपका ट्रेडिंग डीमैट अकाउंट खुल जाता है, और आप अपने खाते में फण्ड ट्रान्सफर कर लेते है तब आपके मन में सब से पहला सवाल ये आता है की अब वास्तव में शेयर कैसे ख़रीदे? शेयर आप दो तरह से खरीद सकते है,

एक आप डायरेक्ट अपने अकाउंट में लॉग इन कर के मार्केट वाच में जो भी शेयर आप add करना चाहे कर सकते है. और जैसे ही आप ये कर लेते है अपने माउस को उस शेयर के नाम के उपर जैसे ही ले जायेंगे आपके सामने Buy / Sell के बटन आजायेंगे. आपको जितनी Quantity शेयर खरीद ने है आप खरीद सकते है. या तो मार्केट रेट से या फिर लिमिट आर्डर डाल कर.

दूसरा तरीका ये है की हर ब्रोकर कॉल एंड ट्रेड का ऑप्शन देता है, आप सीधे सीधे उनके deling वाले फ़ोन नंबर पर कॉल कर के आप को कितनी Quantity में कोनसे दाम पर कोनसा शेयर लेना है बता सकते है और वह बैठा डीलर तुरंत आपकी आर्डर प्लेस कर देता है. और जैसे ही शेयर का भाव आपके दामो पर आता है तो आपकी आर्डर execute हो जाती है और T+२ डे में शेयर आपके अकाउंट में आजाते है. 

और अगर किसी कारन शेयर की कीमत आपके दामो पर नहीं आई तो आपकी उस दिन की आर्डर कैंसिल हो जाती है. और आपको जुसरे दिन फिर से आर्डर डालनी पडती है. लकिन आप कागर मार्केट आर्डर लगाकर शेयर खरीद ते है तो आप की आर्डर तुरंत execute हो जाती है. निचे देये स्क्रीनशॉट पर आप गौर करेंगे तो आपको अच्छे से समझमे आ जायेंगा. लाकिंग फिर भी कोई दिक्कत हो तो कमेट में पूछ लीजिये.

how to invest in share market in hindi

how to invest in share market in hindi

उपर दिए स्क्रीन्शोट्स को ठीक से देखे अगर फिर भी कुछ ना समझे तो कमेंट बॉक्स में पूछिए. 

What is Share Market in Hindi - शेयर मार्किट क्या है

यह पोस्ट पढने के फायदे है ? शेयर मार्किट क्या है – What is Share Market in Hindi इस पोस्ट में हम निचे दिए हुए मुद्दों को सरल भाषा में मझने का प्रयास करेंगे, जैसे की:

  • शेयर मार्किट क्या है – What is Share Market in Hindi
  • शेयर बाजार कितने प्रकार के होते है ? – What are the types of stock market?
  • कंपनीया लोगों को शेयर क्यों बेचती है? – Why do companies sell shares to people?
  • खरीद-बिक्री कहां होती है? – How share market works
  • शेयर बाजार में कैसे निवेश करे हिंदी में – How to invest in share market in Hindi 
  • शेयर बाजार भारत में न्यूनतम निवेश – Minimum investment in share market India
  • शेयर मार्किट में पैसे लगते समय क्या सावधानी बरतनी चाहिये? – What are the precautions to be taken while investing in share market?
  • इंट्राडे ट्रेडिंग नियम हिंदी में – Intraday trading rules in hindi
  • Support Level क्या होता है?
  • Resistance Level क्या होता है?
  • Support Level और Resistance Level में क्या अंतर होता है?
  • शेयर बाज़ार में शेयर कब खरीदें?
  • शेयर मार्किट कब बढ़ता है और कब घटता है ?

शेयर मार्किट क्या है – What is Share Market in Hindi

तो दोस्तों देखते हैं शेयर मार्किट क्या है – what is share market in Hindi. लेकिन उससे पहले मैं आपको यह बताना चाहता हूं की इस पोस्ट / लेख में आपको न सिर्फ शेयर मार्केट क्या है, इसके बारे में जानकारी प्राप्त होगी। बल्कि आप खुद भी शेयर मार्केट में कैसे पैसे लगा सकते हैं, और अच्छा खासा मुनाफ़ा कमा सकते हैं इसके बारे में भी विस्तार से बताऊंगा  ताकि आपकी शेयर मार्केट के बारे में जो भी शंका कुशंका, सवाल है उनका निस्तारण हो सके। 

और एक बात आपको जहां कहीं भी यह  बोल्ड अक्षर में लिखे हुए शब्द या वाक्य दिखे तो उनपर आप जैसे ही क्लिक करोगे आपको उस शब्द / वाक्य की पूरी जानकारी विस्तार से दूसरी लिंक में खुल जाएंगी। जैसे कि शेयर बाजार के नियम जैसे ही आप इस बोल्ड शब्द पर क्लिक करोगे आपको शेयर बाजार के नियम के बारे में पूरे विस्तार से जानकारी प्राप्त हो जाएगी। इसी एक पोस्ट मै मैं आपको इसी  शेयर मार्केट के बेसिक से लेकर एडवांस नॉलेज शेयर  करने का प्रयास करूंगा। 

आपको यह What is share market in Hindi पोस्ट अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों में और परिजनों में शेयर करना ना भूले।

तो चलिए शुरू करते हैं शेयर मार्केट  यह ऐसी जगह है जहां पर  हजारों सूचीबद्ध  शेय रो किं खरीद और बिक्री होती है। यदि कोई व्यक्ति किसी कंपनी का  शेयर खरीदना है। तो इसका मतलब उसने  कंपनी के स्वामित्व की एक इकाई का हिस्सा ख़रीदा होता है। और जब तक उसके पास शेयर रहते हैं वह व्यक्ति कंपनी का शेयर धारक होता है। लकिन अगर उसे पैसो की आवश्यकता हो तो वह जब चाहे उन शेयरो को बढ़ी हुई या घटी हुई कीमतों पर बेच सकता है। 

उदाहरण के लिए

अगर आपने XYZ कंपनी के शेयर रु.१०० में ख़रीदे और कुछ सालो बाद उन शयेरो का भाव रु. १५० हो जाता है और आपको पैसो की जरूरत आन पडे तो आप रु. १५० या उस समय जो भी भाव होगा उस कीमत पर शेयर बेचकर मुनाफा कमा सकते है।   

कई सारी कंपनिया अपने शेयर धारको को हर साल लाभांश और बोनस देती है। तो एस तरह सी शेयर धारको को न सिर्फ बढ़ी हुई कीमतों का फायदा होता है, बल्कि उन्हें लाभांश और बोनस का भी लाभ उठाने को मिलता है। इसीलिए बाजार में जो बड़े-बड़े इन्वेस्टर है वह लंबी अवधि के लिए शेयर खरीदती ते हैं।

What is share market in Hindi मे देखेंगे शेयर बाजार कितने प्रकार के होते है ? – What are the types of stock market?

तो दोस्तों सब से पहले ये जानते है की क्या शेयर मार्केट के भी प्रकार होते है ? अगर हां तो कोनसे प्रकार है और हम उन में शेयर कैसे खरीद या बिक्री कर सकते है। तो इसका जवाब है हां शेयर मार्केट के दो प्रकार होते है जिन्हें:

  1. प्राइमरी मार्केट ( Primary Market )
  2. सेकेंडरी मार्केट ( Secondary Market ) कहते है  

प्राइमरी मार्केट ( Primary Market ):

इस मार्केट में कंपनिया (IPO) के जरिये धन जुटाती है, फिर वह कंपनी सरकारी भी हो सकती है और  प्राइवेट भी। और ये IPO प्राइवेट या पब्लिक प्लेसमेंट के माध्यम से हो सकता है। जब २०० से ज्यदा लोगो को शेयर का आवंटन करते है तब उसे पब्लिक इशु कहते है। और जब २०० से कम लोगो को शेयर का आवंटन करना हो तब उसे प्राइवेट इशु कहते है। प्राइमरी मार्केट में शेयर की कीमत फिक्स्ड प्राइस या बुक बिल्डिंग इश्यू से निर्धारित की जाती है। 

सेकेंडरी मार्केट ( Secondary Market )

जब की सेकेंडरी मार्केट ( Secondary Market ) वो मार्केट है जहा हम ब्रोकर द्वारा एक्सचेंज से शयेरो के खरीदी बिक्री करते है। और इसकी एक अछि बात ये है की इस मार्केट में प्राइमरी मार्केट ( Primary Market ) से ख़रीदे हुए शेयरो को भी बेच सकते है।

 कंपनीया लोगों को शेयर क्यों बेचती है? – Why do companies sell shares to people?

आपके मन में शायद यह यह सवाल आ रहा होगा की इतनी बड़ी बड़ी कंपनीया लोगों को आखिरकार शेयर क्यों बेचती है। वो इसलिए क्योंकि कंपनियों को आपने विस्तार के लिए और नई नई तकनीक  विकसित करने के लिए बड़े पैमाने पर धन की आवश्यकता होती है और इसीलिए यह कंपनियां आईपीओ (IPO – Initial Public Offer) के माध्यम से शेयर जारी करती है और पैसे जुटाती है। उम्मीद है आपको कंपनीया लोगों को शेयर क्यों बेचती है? यह बात समझ में आ गई होगी। 

What is share market in Hindi मे देखेंगे – How share market works

खरीद-बिक्री कहां होती है? और कैसे – How share market works What is Share Market in Hindi

खरीद-बिक्री कहां होती है?  How share market works एनएसई – नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) और बीएसई – बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE), यह दो भारत के प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज है। और यहीं से शेयर की खरीदी बिक्री होती है, लेकिन  किसी भी कंपनी का शेयर खरीदने के लिए या शेर बेचने के लिए आप डायरेक्ट एनएसई और बीएसई से शेयर नहीं खरीद सकते क्योंकि इसके लिए आपको मिडिल मैन के तौर पर काम करने वाले ब्रोकर के पास डिमैट अकाउंट ओपन करना होता है। क्योंकि ब्रोकर यह स्टॉक एक्सचेंज और निवेशकों के बीच में मीडिएटर का रोल प्ले करता है।

 एनएसई (NSE),  बीएसई (BSE) यह दोनों  एक्सचेंज सेबी – सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (SEBI)  द्वारा  विनियमित हैं। हाल ही में SEBI द्वारा ट्रेडिंग से संबंधित अत्यंत महत्वपूर्ण नियम जारी हुए हैं इन्हें जरूर पढ़े। हर ब्रोकर को सेबी (SEBI) के पास रजिस्ट्रेशन करना अनिवार्य होता है, शेयर बाजारों में क्रमबद्ध तरीके से काम  हो रहा है या नहीं इसकी जिम्मेदारी सीधी के ऊपर होती है ताकि निवेशक को और व्यापारियों के हितों की रक्षा हो सके और बाजारों में स्वस्थ वातावरण रह सके। उम्मीद है आपको What is share market in Hindi मे How share market works की जानकारी समझ आई होगी।  

शेयर बाजार में कैसे निवेश करे हिंदी में – How to invest in share market in Hindi 

What is share market in Hindi में जानेगे How to invest in share market in Hindi  शेयर बाजार में निवेश करने के लिए आपका डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य है।  आप सेबी रजिस्टर्ड किसी भी ब्रोकर के पास डिमैट अकाउंट ओपन करके शेयर बाजार में निवेश करना शुरू कर सकते हैं। निचे कुछ ब्रोकर्स के नाम दिए है उनके साथ आप अपना ट्रेडिंग डिमँट अकाउंट बड़ी आसानी से बिना फिजिकल डॉक्यूमेंटेशन के Online ही Open कर सकते हो। 

Alieceblue

Upstox मे खाता खोलने के लिए 👉 यहा क्लिक करे मोबाईल से खाता खोलने के लिए 👉 यहा क्लिक करे

Samco

How to invest in share market in Hindi के बारे में हम इस पोस्ट में और अधिक विस्तार से जानेगे ताकि हमरी इस What is Share Market in Hindi पोस्ट हम ने जिस मकसद से बनाई है वो सफल हो और आपको आप ही की सरल भाषा में शेयर बाजार की जानकारी साझा कर सकू। 

दोस्तों वैसे तो शेयर बाजार एक विशाल समुन्दर की तरह है लकिन फिर भी मै आपको उस के बारे में बताने की चेष्टा कर रहा हु। कही कुछ कमी रह जाए तो जरुर बताये।

शेयर बाजार भारत में न्यूनतम निवेश – Minimum investment in share market India

Minimum amount to invest in share market दोस्तों वैसे तो शेयर बाजार में न्यूनतम निवेश की निवेश का कोई बंधन नहीं है। आप कम से कम रु.५०० भी निवेश कर सकते है, और ज्यादा से ज्यादा कितना भी निवेश कर सकते हैं। आप चाहे तो एक शेयर भी खरीद सकते है भले ही उसकी कीमत रु.१ से कम क्यों ना हो। लकिन आपको इस बातका भी ध्यान रखना है की हर ट्रेड के लिये आपको ब्रोकरेज भी देना होता है, और ये हर एक ब्रोकर का अलग अलग होता है। और साथ ही मामूली सरकारी Transaction चार्जेस भी, इन सब को ध्यन में रख कर आप  शेयर बाजार भारत में न्यूनतम निवेश करे। 

लेकिन मैं आपको यही सलाह दूंगा की शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले अच्छे इन्वेस्टमेंट एडवाइजर से एडवाइस जरूर ले। और अगर आप आपको इसकी कोई जरूरत नहीं लगती है, और आप अपनी मर्जी से मार्केट में पैसे लगाना चाहते हैं। तो उतने ही पैसे शेयर मार्केट में लगाइए जितने की अगर आपके नुकसान के स्वरूप में चले भी जाए तो उससे आपके जीवन मान पर कोई परिणाम ना पड़े। 

What is share market in Hindi मे Support Level क्या होता है?

What is share market in Hindi मे जब कोई स्टॉक लम्बी गिरावट के बाद एक कीमत के पास जहा वह पहले भी आकर  गिरना बंद हो गया था वह लेवल उस स्टॉक की सपोर्ट लेवल होती है।  और ये Levels हर टाइम फ्रेम के चार्ट पर आपको देखने को मेलेगी, चार्ट पर Support Levels निकालने के लिये कम से कम २-३ पॉइंट्स मिलना अच्छा होता है। एस से ज्यदा पॉइंट्स मिले तो और भी आछा होता है और सटीक Support Levels निकालने में आसानी होती है। और कुछ लोग Pivot Level टूल के ऊपयोग से भी Levels निकालते है।

What is share market in Hindi मे Resistance Level क्या होता है?

What is share market in Hindi मे ऐसे ही जब लंबी बढत के बाद में कोई स्टॉक बढ़ना रुक जाता है, जहा वह पहले भी बढ़ना रुका था। और उसी लेवल से निचे फिसल ता है, उस लेवल को रेजिस्टेंस लेवेक जेहते है। और यह लेवल आपको हर टाइम फ्रेम की चार्ट में देखने को मीलेगी, और चार्ट पर रेजिस्टेंस लेवल निकालने के लिए कम से कम २ – ३ पॉइंट्स मलना अच्छा होता है।

Support Level और Resistance Level में क्या अंतर होता है?

Support Level और Resistance Level में क्या अंतर होता है? What is Share Market in Hindi

What is share market in Hindi मे Support Level और Resistance Level में बस इतना अंतर होता है जब मार्केट निचे जता है, तब वह उस Level लेवल पर जा कर Support लेता है जो लेवल पहले Resistance Level का काम कर रही होती है। 

ठीक इस के विपरीत जब मार्केट उपर उपर जाता है तब वह उस Level लेवल पर जा कर Resistance महसूस करता है जो पहले Support Level का काम कर रही होती है। 

अगर इसे सरल भाषा में कहे तो मार्केट जब उपर जाता है तब पुराने Support Level जहा से मार्केट गिरा था वह Resistance Level बन जाते है। और जब मार्केट निचे जाता है तप पुराने Resistance Leve जहा मार्केट उपर जा नाही पा रहा था वह अब Support Level बन जाते है।    

शेयर बाज़ार में शेयर कब खरीदें?

What is share market in Hindi मे ये जानकारी अगर आपने ठीक से पढली तो आप मार्केट मे सही समय पर शेयर खरीद ने कि और पहला कदम बढ़ाएंगे क्यों की अक्सर लोगो के मन में ये सवाल आता है की शेयर बाज़ार में शेयर कब खरीदें?। तो इस के लिए मै यही साला दूंगा की मार्केट में शेयर खरीदने से पहले आपको चार्ट पढना आना चाहिये। या फिर आपने किसी अच्छे मेंटॉर से टेक्निकल एनालिसिस, फंडामेंटल एनालिसिस का ज्ञान प्राप्त कर ले,  ताकि आप खुद अपने ट्रेडिंग से सम्भंदित निर्णय ले सके।

क्यों की शेयर खरीदते वक़्त सबसे महत्वपूर्ण है टाइमिंग और बिना किसी नॉलेज के आप अगर सिर्फ किसी के सलाह पर या कहने पर शेयर खरीदेंगे तो हो सकता है आपको बड़े नुकसान का सामना करना पड़े। इस लिये मार्केट का पहले अच्छे से स्टडी करे ट्रेंड को जाने और ट्रेंड के अनुसार सही टाइम पर और सही कीमत पर शेयर खरीदें।

निचे ये कुछ Websites के नाम दे रहा हु जहा पर आप शेयर मार्केट से जुड़े कुछ कोर्सेस करके अपने ट्रेडिंग के नॉलेज को और बढा सकते है।

शेयर मार्किट कब बढ़ता है और कब घटता है ?

दोस्तों शेयर मार्केट शेयर मार्किट कब बढ़ता है और कब घटता है ? इसका १००% सटीक आकलन करने वाली सिस्टम अभी तक नहीं बनी है और शायद ना बनेगी। क्यों की शेयर मार्केट का बढ़ना और घटना बहोत सारी बातो पर निर्भर करना है, जैसे की कंपनियों के क्वार्टरली, इयरली रिजल्ट्स, ग्लोबल मार्केट, RBI पोलिसि में बदलाव, बजट, इलेक्शन, प्राकृतिक या कोई अकस्मात आपदा, इत्यदि कई सारी बातो को मध्यनजर रख कर बाजार अपनी दिशा में बढ़ता है। 

लकिन इसका बहोत हद तक अन्दाज होने के लिये बहोत सारे इंडीकेटर्स और चार्ट पैटर्न का ट्रेडर्स ऊपयोग करते है। जिन लोगो को फंडामेंटल एनालिसिस, टेक्निकल एनालिसिस में महारथ हासिल होता है वे लोग मार्केट को काफी हद तक समझ ने में कामयाब रहते है और शेयर मार्केट से मोटा मुनाफा कमाते है। आप भी अगर फंडामेंटल एनालिसिस, टेक्निकल एनालिसिस में महारथ हासिल करना या सीखना चाहते है तो NSE द्वारा सिखए जाने वाले ncfm और SEBI द्वारा दिए जाने वाले NISM कोर्सेस को जरुर कर ले। इस से आप भी बहोत हद तक पता लगा सकोगे की शेयर मार्केट शेयर मार्किट कब बढ़ता है और कब घटता है ?, Share market down क्यूँ होता है in Hindi,  इत्यदि।

दोस्तों उम्मीद करता हु इस What is share market in Hindi  पोस्ट में दी गई सारी जानकारी आपके समझ में आई होगी, और इस से आपको निश्चित ही लाभ होगा।  लेकिन आपको फिर भी इस पोस्ट में कुछ कमी नजर आये तो जरुर बताये, और अब आप बिना वक़्त गवाए इस पोस्ट को पढ़े जिसमे आपको मात्र ५००० की राशि से शेयर मार्केट में कैसे निवेश किया जा सकता है इसके बारे में बताया है. या कुछ आपके सुझाव,या सवाल हो तो जरुर पूछे, हम उन्हें भी इस पोस्ट में शामिल करने की कोशिश करेंगे  ता की औरो को भी इस पोस्ट से अधिक लाभ / ज्ञान मिल सके तो चलिए मिलते हे अगली पोस्ट में ऐसे ही किसी महत्वा पूर्ण विषय की जानकारी लेके, धन्यवाद.

तो चलिए शुरू करते है..

शेयर कब खरीदना चाहिए? या फिर शेयर कैसे ख़रीदे और बेचे जाते हैं?

तो जैसे की हमारा पहला उददेश यह जानना है की न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए कितनी होनी चाहिये और उस से हम शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? तो हर शेयर खरीदने का एक अलग अलग समय होता है. और ये इसबात पर भी निर्भर करता है की आप निवेश कितनी अवधि के लिये करना चाहते है. 

जब आप ये पक्का कर लेते है की आपको कितने समय के लिये पैसे शेयर मार्केट में  निवेश करने है. तो उसके बाद उस हिसाब से अलग अलग कंपनियों के शेयर के Technical Analysis कर के उस टाइम फ्रेम पर चार्ट देखे जाते है जितनी अवधि के लिये आपको निवेश करना होता है. और फिर निवेश की समय सीमा को देखते हुवे उस शेयर का Fundamental एनालिसिस भी किया जाता है. और फिर जो शेयर सबसे अच्छे दामो पर Fundamentally मजबूत नजर आते है उनमे अक्सर लोग मध्यम से लेकर लम्बी अवधि के लिये निवेश करते है.

स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे – minimum amount to invest in stock in hindi

minimum amount to invest in stock in hindi अब आपके मनमे ये सवाल आरहा होगा की ये सब हम कहा सीखे और स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे. तो दोस्तों मैंने आपको उपर जो ३ किताबे पढने की सलाह दी है उसमे आपको बहोत सारी जानकारी मिलजाएगी. साथ ही इसी पोस्ट पर एक रु.४७२० मूल्य का शेयर मार्केट कोर्स १०० % Free में आपको उपलब्ध करा कर दिया है. आपको बस Coupon Code डालना है और कोर्स १०० % Free आपको मिलजायेंगा. साथ ही आप चाहे तो फिर वहां से अन्य video कोर्सेज खरीद भी सकते है.  अन्य कुछ कोर्सेज के लिंक और डिस्काउंट Coupon Code इस पोस्ट में दिए है आप चाहे तो देख सकते है. एक बार आपने कुछ दिनों का अभ्यास कर लिया तो आपको शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? या स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे ये सवाल कभी नही सताएगा.

2021 में कौन सा शेयर खरीदे?

उपर आपको जो जो बाते बताई है आप अगर उन बातो को अमल में लाते है तो आप खुद 2021 में कौन सा शेयर खरीदे? इस सवाल का जवाब पासकते है. जरूरत है तो बस नियमित रूपसे अलग अलग चार्ट्स को देखने की. उनका अभ्यास करने की. और 2021 में कौन सा शेयर खरीदे? ये इस बात पर भी निर्भर करता है की आपको कितने पैसो का निवेश शेयर में करना है. फिर उसी तरह से अपने पैसे को चुने हुवे बेहतरीन शेयर में निवेशित करे. 

२०२१ में आपको कंसम्पशन, इलेक्ट्रिक गाडियों से जुडी किसी बेहतरीन कंपनियों के stock की खोज करनी चाहिये जैसे की Nestle India, Godrej Consumer, Irctc, & Sterling, Borosil Renewables Ltd & Wilson Solar Ltd. etc

शेयर खरीदने के नियम – minimum amount to invest in stock in hindi

शेयर खरीदने के नियम जी हा दोस्तों भलेही आपने कोनसा शेयर कब और कैसे खरीदना है ये सिख लिया हो लेकिन शेयर खरीदने के कुछ नियम भी होते है जिनका आपको पालन करना चाहिये. क्यों की कही बार व्यक्ति ओवर कांफिडेंस में अपनी सीमा से ज्यदा निवेश कर देता है. और बाजार अगर उसके एनालिसिस के मुताबिक़ नही चला तो उस भारी नुकसान भी उठाना पड सकता है. मैंने मेरी इस पोस्ट में कइ महत्वपूर्ण जानकारी दी है आप उसे जरुर पढ़े. ताकि आप को अपने पैसो का मैनेजमेंट करने में आसानी हो. साथ ही आप अपने खुद के शेयर खरीदने के नियम तय कर सके. लेकिन हा आप जो भी नियम बनायेंगे उन्हें नियमित तौर ध्यान में रखे और उनका पालन करे.

शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? जानने की लिये शेयर कब खरीदे और कब बेचे? 

शेयर कब खरीदे और कब बेचे? इस सवाल का जवाब बड़ा आसान है. आपने अगर उपर सुझाए कोर्स और बुक्स पढ़े होंगे तो आपको शेयर कब खरीदे और कब बेचे? इस के बारे में लगभग सारी जानकारी प्राप्त हुई होगी. लेकिन अगर नही पढ़े होंगे तो बताना चाहूँगा की अगर आप किसी शेयर को आज लेकर आज ही मार्केट बंद होने से पहले बेचना चाहते है. तो आपको intraday ट्रेडिंग के सारे नियमो को जाकर उस हिसाब से ट्रेडिंग करनी चाहिये. अगर आप मध्यम से लम्बी अवधि के लिये शेयर खरीदना चाहते है तो पहले उन शेयर्स के चार्ट का एनालिसिस किजिये. 

चार्ट पर जो जो शेयर अच्छे लगे उनकी एक लिस्ट बनाले और उनके फंडामेंटल्स चेक करे अगर आप को बहोत जल्दी है इन्वेस्ट करने की और फंडामेंटल एनालिसिस नही करना चाहते तो निफ्टी 50 या निफ्टी ५०० के स्टॉक्स को तरजी दे. क्यों की इन दोनों इंडेक्स में अक्सर अच्छे शेयरो को ही जगह मिलती है. लेकिन हा ये मेरी investment एडवाइस बिलकुल नही है. किसी भी शेयर में निवेश करने से पहले अपना खुदका एनालिसिस और निर्णय ले. 

वैसे एक्सपर्ट ट्रेडर निचे दिए हुवे तरीको का इस्तमाल कर के शेयर मार्केट में शेयर खरीद ते और बेचते है. 

  1. Intraday Strategies 
  2. Swing Trading Strategies
  3. Momentum Investing 
  4. Volume based Trading
  5. Reversal Strategies
  6. Pattern Trading Strategies
  7. By Finding Support & Level , इत्यादि।
  • Intraday Strategies :-

आप अगर intraday trading से शेयर बाजार में निवेश करना चाहते है. तो आप निचे बताई गई हमारी Intraday Strategies को जरुर देखे. फिर उसके बाद हमने जो ३ किताबे सुझाई है आप उनका वाचन जरुर करे. साथ ही जो free शेयर मार्केट कोर्सेस उपलब्ध कराए है उनको जरुर देखे. उसके बाद ही अपने पैसो को  intraday trading में लगाए. क्यों की  intraday trading एक बहोत ही रिस्की  trading तकनीक है. इस में आपके सारे पैसे एक दिन में भी जा सकते है. अगर आपने बिना अभ्यास के  intraday trading करना शुरू किया तो.

उद्धरण के तौर पर आप हमारी नीचे बताई गई इन साधारण स्ट्रैटिजी को खुद बैकटेस्ट करके जरूर देखिये। अगर इनके नतीजे आपको आच्छे लगे तो सोचिए Premium स्ट्रैटिजी कैसी होती होगी। 

  1. Intraday Trading in Hindi – इंट्राडे की एक जबरदस्त Strategy 
  2. Intraday Trading In Hindi – जबरदस्त इंट्राडे ट्रेडिंग फॉर्म्युला Using VWAP
  • Swing Trading Strategies :-

Swing Trading की बहोत सारी Strategies पर लोग काम करते है. कोई Swing Trading कैंडल के पैटर्न के आधार पर करता है. तो कोई अलग अलग इंडीकेटर्स का इस्तमाल और चार्ट दोनों को देख कर Swing Trading की Strategies बनाता है. Swing Trading में trade में आमतौर पर २-३ दिन से लेकर एक हप्ते तक पोजीशन को होल्ड करते है. 

निचे दिए screenshot पर अगर आप गौर करोगे तो उसमे एक लम्बी गिरावट के बाद Stick  Candle का एक Reversal पैटर्न बना है जिसमे कन्फर्मेशन मिलने के बाद लोग उस stock में निवेश करते है. Swing Trading की ख़ास बात ये है की इसमें target आवर stoploss पहले से ही निर्धारित कर सकते है. और सबसे बड़ी बात की इसमें आपको रिस्क रिवॉर्ड ratio १:२ से लेकर १ : ५ या उस से भी ज्यादा मिल सकता है. इसी लिये लोग स्विंग ट्रेडिंग में निरंतर पैसे कमा रहे है. आप अगर Swing Trading सीखना चाहते है तो मैंने सुझाई हुई किताबो को जरुर पढ़े. 

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए - शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

  • Momentum Investing :-

Momentum Investing ये investment करने का सबसे जबरदस्त तरीका है. इस में आप शेयर की लगभग सारी तेजी का लाभ उठा सकते है. याने शेयर को बॉटम में सही समय पर पकड़ सकते है आवर टॉप पर बेच ने की कला सिख सकते है. उदाहरण के तौर पर निचे आपको Indiamart Intermesh का चार्ट देखना चाहिये. अगर आपको Momentum Investing का ज्ञान होता जब ये stock २५०० – २६०० के आस पास चल रहा था तब आप इसमें २६२५ वाले ब्रेकआउट लेवल को भी पहचान लेते और stock की कीमत ३००० – ३५०० होने पर प्रॉफिट नही बुक करते आप ७७३० पर ही अपना प्रॉफिट बुक करते. और फिर से ब्रेकआउट में stock खरीद लेते. 

Momentum Investing ये शेयर मार्केट का ब्रम्हास्त्र खा जाये तो भी चलेगा. क्यों की इस तकनीक से लोग अपने portfolio को कुछ ही सालो में २ – ३ – ५ गुना तक कर लेते है. और ये सिलसिला आगे भी ऐसे ही चलते रहता है. आप अगर लम्बी अवधि के लिये शेयर मार्केट में निवेश करना चाहते है तो आपको Momentum Investing जरुर सीखनी चाहिये. यकीन मानिए अगर आपने इस तकनीक को अच्छे से सिख लिया तो शेयर बाजार में पैसा कैसे कमाए ये सवाल आपको कभी सताएगा ही नहीं. उलटा आप ही अपने दोस्तों, परिजनों को शेयर बाजार में पैसा कैसे कमाए इस के बारे में सिखाओगे.

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए - शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

  • Volume based Trading :-

Minimum amount to invest in stock in Hindi Volume based Trading इस तकनीक को सिख कर आप शेयर के Volume में होने वाले उतार चढाव को देख कर उसमे निवेश करना या बाहर निकलना उसके बारे में निर्णय ले सकते है. इस तकनीक से आप शेयर में आपने वाली upward या downward मूवमेंट का पता लगा सकते है. 

निचे दिए screenshot को आप देखो गे तो आपको दिखेगा की किसी stock का वॉल्यूम जब औसत से ३ – ६ गुना तक बढ़ जाता है तो stock उस ट्रेंड की दिशा में और आगे तक जाता है. Volume based Trading स्ट्रेटेजी भी शेयर मार्केट में काफी कारगर है. 

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए - शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

  • Reversal Strategies :-

Reversal Strategies ये वो गजब की Strategies जिस से आप किसी शेयर में आने वाली Revers सिचुएशन को पहले ही पहचान सकते है. जैसे की चार्ट पर कोई शेयर उपर निचे करते करते उपर जा रहा है लकिन वो कब निचे आना शुरू होगा और कहा तक निचे आसकता है. इसका आप स्टिक अंदाजा लगा सकते है. ठीक वैसे ही अगर कोई stock निचे उपर करते करते निचे ही जा रहा है तो वो stock कब अपना downward ट्रेंड बदलके तेजी का ट्रेंड पकड़ेगा आप इसके बारे में भी आसानी से पता लगा सकते है. 

उदाहरण के तौर पर:- आप अगर निचे दिये screenshot को देखो गे तो चार्ट पर stock में जहा पहला टॉप दुसरे टॉप के उपर या समान है. वही निचे इंडिकेटर पर पहले टॉप के बाद दूसरा टॉप पहले टॉप के मुकाबले निचे है. याने की इस stock में गिरावट आसकती है इसका अनुमान हम पहले से ही लगा सकते है. इस Reversal Strategies का इस्तमाल कर के भी लोग शेयर मार्केट में अच्छे पैसे कमाते है.

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए - शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

  • Pattern Trading Strategies :-

Pattern Trading Strategies ये Momentum Investing के बाद मेरा समसे पसंदिता शेयर ट्रेडिंग प्रकार है. जैसे candlestick patterns बहोत सारे होते है वैसे ही पैटर्न बहोत तरह के होते है लेकिन ६ – ७ तरह के पैटर्न ही है जो बहोत कारगर होती है. जैसे की हेड एंड शोल्डर, rounding बॉटम, असेंडिंग ट्रायंगल, इत्यादि. 

  उदाहरण के तौर पर:- निचे दिये screenshot को देखो गे तो hindustan petroleum के 1 day चार्ट पर stock में Head & Shoulder पैटर्न बना हुवा दिखेगा. और इस में ब्रेकआउट लेवल से हेड तक जितना अंतर होता है उतना ही उपर का target होता है. इस Pattern Trading Strategies की सबसे ख़ास बात ये है की इसमें algo स्ट्रेटेजी नही बनती. और इसलिए इनका सक्सेस ratio भी बहोत अच्छा होता है. 

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए - शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

  • By Finding Support & Level :-

Support & Level देख कर भी कई एक्सपर्ट ट्रेडिंग करते है. और इसमें stop loss और target भी पहले से पहलेसे निर्धारित करसकते है. उदाहरण के तौर पर:- निचे दिये screenshot को देखो गे तो icici bank ke stock ने ४१० पर ब्रेकआउट देने के बाद कुछ समय के लिये पुराने Resistance Level पर ५५० के आस पास २-३ हप्ते कंसोलिडेशन किया और फिर से ब्रेकआउट दिया. उसके बाद stock फिर से निचे आया लेकिन उसने ५५० के Resistance Level इस बार support Level में बदल दिया और ५५० से Level को छुकर फिर से उपर निकल गया. आवर अब इस stock का न्य support लेवल ६५० बनगया है. 

तो दोस्तों सभी प्रकारों को या इनमे से कोई एक प्रकार सिख कर आप अगर उसमे एक्सपर्ट बनगए तो आप मात्र न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए ५००० से भी शुरुवात करसकते है.  शेयर बाजार में पैसा कैसे कमाए इसका आसान जवाब है नियमित और स्ट्रेटेजी की मांग नुसार Quantity में trade लेते आना चाहिये

जाने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए - शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए?

शेयर मार्केट में अकाउंट कैसे खोलें

शेयर मार्केट में अकाउंट कैसे खोलें इस बात का अब टेंशन लेने की बिलकुल आवश्कता नहीं. क्योकि शेयर मार्केट में account खोलने की प्रक्रिया अब इतनी आसान हो गई है की अब आप घर बैठ बिना ब्रोकर के ऑफिस के चक्कर लगाए अपना शेयर ट्रेडिंग खाता खोल सकते है. निचे आपको शेयर ट्रेडिंग खाता खोलने के लिये लिंक दी है उस पर क्लिक कर के आप घर बैठे पेपरलेस खाता खोल सकते है. और वो भी भारत के सबसे भरोसेमंद ब्रोकर के साथ.  कंप्यूटर से खाता खोलने के लिये 👉 यहा क्लिक करे और मोबाईल से खाता खोलने के लिए 👉 यहा क्लिक करे साथ ही आपको Premium Strategies भी सबसे पहले मेलेगी।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न : FAQ

१. शेयर कैसे चुने? अच्छे शेयर का चुनाव कैसे करे?

अगर आप intraday के लिये शेयर का चुनाव करना चाहते है तो आपको १५ मी और 30 मों की चार्ट पर अलग अलग शेयर को परख ना चाहिये. लेकिन आप अगर मध्यम से लेकर लम्बी अवधि के लिये शेयर का चुनाव करना चाहते है तो आपको One Day time frame से लेकर Weekly और Monthly चार्ट पर शेयर का चुनाव करना चाहिये. आपको अगर चार्ट पढना नहीं आता है तो मैंने उपर सुझाई किताबे जरुर पढ़े. क्यों की मार्केट में बिना पूरी तयारी और अभ्यास के पैसा कमाना लगभग असंभव है. और आप अगर सब सिख कर मार्केट में पैसा लगाओग तो मार्केट से पैसा कमाना आपको आसान लगने लगेगा. आपको अगर मेरी बात पर यकीन नही है तो आप खुद देखिये की एक तरफ कुछ लोग मार्केट में रोज हजारो लाखो कमाते है. और वही दूसरी तरफ बहोत सारे लोग रोज हजारो लाखो रूपये मार्केट में खो रहे है. ऐसा क्यों जवाब सिंपल है जो पैसे कमा रहे है उन्होंने पहले सिखा मार्केट को समझा और फिर निवेश किया. और वही जो लोग पैसा खो रहे है वो सीखना और मार्केट को समझने की जरूरत नही समझते और नतीजा नुकसान उठा बैठते है.

२. शेयर खरीदते समय क्या ध्यान रखें?

शेयर खरीदते समय Quantity, Chart, Company का ताजा और पिछला परफॉरमेंस देखे, सेक्टर देखे ये सब बाते देखने के बाद. आप के निवेश के कालमर्यादा को देख कर शेयर खरीदने का निर्णय ले.

३. कैसे इंट्रा डे के लिए शेयर का चयन करने के एक दिन पहले?

एक दिन पहले इंट्रा डे के लिए शेयर का चयन करने के लिये आपको चार्ट पढ़ते आना चाहिये. भलेही fundamentals का आपको कोई ज्ञान ना हो. और वैसे भी intraday में किसी कंपनी के शेयर में कोई बड़ा परिवर्तन बार बार नही होता. एक दिन पहले इंट्रा डे के लिए शेयर का चयन करने के लिये चार्ट बहोत मायने रखते है. इसलिए चार्ट को पढना सीखिए. कुछ लोग कैंडल पैटर्न देख कर भी एक दिन पहले इंट्रा डे के लिए शेयर का चयन करते है. उदाहरण के टूर पर :- अगर किसी शेयर में कम से कम ३ दिन की गिरावट के बाद अगर कोई रिवेर्सल का सिग्नल मिले जैसे Tweezer Bottom, Hammer, Bullish Thrusting Line इत्यादि. तब आप intraday में मार्केट की डेप्थ, सेक्टर, USD / Inr और Vix का अध्ययन कर के इंट्रा डे के लिए शेयर का चयन कर सकते है.

४. डे ट्रेडिंग में पैसा लगाने से पहले क्या करना चाहिए?

डे ट्रेडिंग में पैसा लगाने से पहले क्या करना चाहिए? आपको सबसे पहले तो अपनी trading Quantity पर और no trades पर नियंत्रण रखते आना चाहिये. डे ट्रेडिंग में पैसा लगाने से पहले आपका पूरा रोड मैप तैयार चाहिये जैसे की आपको trade कोनसी दिशा में लेना है, प्रॉफिट और stop loss पहले से निर्धारित हो. Back tested अच्छी स्ट्रेटेजी पर नियमित और स्ट्रेटेजी की मांग नुसार Quantity में trade लेते आना चाहिये. भलेही कुछ दिन एक के पीछे एक stop loss ट्रिगेर हो जाए. क्यों की बिना नियमित ता के कोई भी स्ट्रेटेजी आपको अच्छे नतीजे नही दिखायेगी. इसलिए डे ट्रेडिंग में नियमित, Quantity, Back tested अच्छी स्ट्रेटेजी जरूरी होती है.

५. शेयर मार्केट को कैसे समझें?

शेयर मार्केट को कैसे समझें? इसके बारे में इस पोस्ट में बहोत विस्तार से बताया है. शेयर मार्केट को समझने के लिये आपको या तो शेयर मार्केट का कोई कोर्स करना चाहिये या फिर मैंने उपर सुझाई ३ किताबो का वाचन करना चाहिये. आप को बहोत हद तक शेयर मार्केट को समझने में आसानी होगी. और शेयर मार्केट में काम करने में नियमितता रखनी जरूरी क्यों की नियमित ता से ही आप अपनी Strategies का ठीक से आकलन कर सकेंगे.

निष्कर्ष :- 

उम्मीद है स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करे शेयर कैसे चुने? साथ ही अच्छे शेयर का चुनाव कैसे करे? और शेयर खरीदते समय क्या ध्यान रखें? इन बातो की अच्छे से जानकारी प्राप्त हुई होगी साथ ही  शेयर कब खरीदे और कब बेचे? इस के बारे में भी अब आप कुछ हद तक खुद निर्णय ले सकोगे. ये पोस्ट आपको बहोत मद्तगार साबित हुई होगी इस में को शक नही भलेही आप शेयर मार्केट में बिलकुल नये है. या फिर पुराने भी है, लेकिन हमेशा loss ही कर रहे है. तो हमने न्यूनतम राशि शेयर बाजार में निवेश करने के लिए ( minimum amount to invest in stock in hindi )- शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए? इस पोस्ट में जाना की कैसे आप मात्र रु.५००० की राशि के साथ शेयर मार्केट में बहोत सावधानी से निवेश कर सकते है और शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए वो भी शेयर खरीदने के नियम को जान कर. मिलते है अगली ऐसी ही पोस्ट में महत्वपूर्ण जानकारी के साथ, धन्यवाद.

Leave a Comment